रायपुरछत्तीसगढ

राजधानी पुलिस एक्शन में, असामाजिक तत्वों, बदमाशों व संदिग्धों पर ताबड़तोड़ कार्रवाई

रायपुर,न्यूज़ धमाका :- शहर में शांति व्यवस्था को बनाए रखने तथा अपराधियों के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही करने के तारतम्य में राजधानी पुलिस द्वारा आज सघन अभियान चलाया गया। जिसके तहत समस्त राजपत्रित अधिकारियो के नेतृत्व में थाना प्रभारियों द्वारा अपने थाना के बलों सहित सायबर सेल की टीम के साथ अड्डेबाजी करने वालों, उत्पात करने वालों, बदमाशों, शांति व व्यवस्था भंग करने वालों के विरुद्ध सघन चेकिंग अभियान चलाते हुए कार्यवाही करते हुए गिरफ्तार किया गया तथा उनके विरुद्ध विधि सम्मत कार्यवाही की गई ।

अभियान कार्यवाही के तहत जिले सभी थाना क्षेत्रों में अलग-अलग स्थानों में हाथ में तलवार एवं चाकू लेकर लहराते एवं लोगों को डराते धमकाते तथा चेकिंग के दौरान चाकू लेकर घुमते पाए जाने पर कुल 9 व्यक्तियों के विरूद्ध आर्म्ज़ एक्ट के तहत कार्यवाही की गयी तथा प्रतिबंधित नशीली पदार्थ बिक्री करते 2 व्यक्ति के विरूद्ध नारकोटिक्स एक्ट के तहत कार्यवाही की गई गुण्डा व निगरानी बदमाश सहित अपराधिक तत्व जो लगातार अपराध में संलिप्त रहते है,

के साथ ही घटनाओ को अंजाम देने की फिराक में संदिग्ध रूप से घुमते कुल 87 व्यक्तियों के विरूद्ध आज भी प्रतिबंधात्मक धाराओं के तहत् कार्यवाही कर अपराधियों को जेल भेजा गया है ।

जुआ खेलने वाले 7 आरोपियों के विरुद्ध जुआ एक्ट के तहत कार्यवाही की गई। इस तरह चलाएगा अभियान में कुल 105 लोगों की गिरफ्तारी की गई। आज चलाए गए अभियान के तहत कुल 76 बदमाशों को जेल भेजा गया ।रायपुर पुलिस का यह अभियान लगातार आगे भी जारी रहेगा।

पुलिस ने ढूंढ निकाले गुम हुए 100 मोबाइल

रायपुर पुलिस ने 100 मोबाइल खोज निकाले हैं। मोबाइल धारकों के चेहरे खुशी लौटा दी है। गुम मोबाइल फोन की घटना को वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रशांत अग्रवाल द्वारा गंभीरता से लेते हुए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर तारकेश्वर पटेल एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अपराध अभिषेक माहेश्वरी को गुम मोबाइल फोन ढूंढ कर बरामद करने के लिए निर्देशित किया गया था, जिस पर एंटी क्राइम एवं साइबर यूनिट रायपुर की टीम द्वारा आवेदकों द्वारा प्रस्तुत गुम मोबाइल फोन के आवेदनों पर गुम हुए मोबाइल फोन को ढूंढने का विशेष अभियान चलाया गया। रायपुर सहित अन्य जिलों व अन्य राज्यों के अलग-अलग स्थानों से ढूंढ कर बरामद किया गया।

महिलाओं और नर्स ने भी आनलाइन मंगवाए थे बटनदार चाकू

राजधानी में चाकूबाजी की वारदात कम होने का नाम नहीं ले रही है। पुलिस ने चाकूबाजों के खिलाफ अभियान छेड़कर रखा है। पिछले दिनों पकड़े गए आरोपितों से पूछताछ में पुलिस को जानकारी मिली थी कि आरोपित आनलाइन वेबसाइट से चाकू मंगवाते हैं। पुलिस ऐसे लोगों की सूची तैयार कर उन्हें फोन किया और चाकू जब्त किया। आनलाइन चाकू मंगवाने में महिलाओं के नाम भी सामने आए हैं। एक सरकारी अस्पताल की नर्स ने भी बटनदार चाकू मंगवाया था, जिसे पुलिस ले जब्त कर लिया।

धारदार हथियार से होने वाली घटनाओं के मद्देनजर एसएसपी प्रशांत अग्रवाल ने रायपुर पुलिस के सभी अधिकारियों, थाना प्रभारियों, प्रभारी एंटी क्राइम एवं सायबर यूनिट को अभियान के लिए कार्य योजना बनाने को कहा। चाकू लेकर घूमने वालों, बेचने वालों की पतासाजी करने की हिदायत दी। साथ ही आनलाइन शापिंग साइट्स जैसे फ्लिपकार्ट, स्नैपडील और एमेजान सहित अन्य से चाकू मंगाने वालों पर नजर रखने के निर्देश दिए हैं।

वेबसाइट से पुलिस को मिल रही जानकारी

रायपुर पुलिस को तकनीकी माध्यमों से आनलाइन चाकू मंगवाने वाले शहरवासियों की सूची मिली है। इसके अनुसार तस्दीकी के लिए अभियान प्रारंभ किया गया। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अपराध अभिषेक माहेश्वरी के निर्देशन और प्रभारी एंटी क्राइम एवं साइबर यूनिट गिरीश तिवारी के नेतृत्व में शहर के अलग-अलग थाना क्षेत्रों के व्यक्तियों से 50 चाकू जमा कराए गए हैं।

पुलिस की अपील : करें सहयोग

रायपुर पुलिस ने आम जनता से अपील की है कि वे आनलाइन शापिंग साइट्स से बटनदार, धारदार व घातक चाकू-गुप्ती और अन्य हथियार न मंगाएं। चाकूबाजों के संबंध में जानकारी देकर पुलिस का सहयोग करें, जिससे चाकूबाजी की घटनाओं पर पूर्ण रूप से काबू पाया जा सके। चाकूबाजों को खिलाफ अभियान जारी रहेगा।

20 बाइक और ऑटो के साथ पकड़े गए चोर:- पुलिस ने वाहन चोरी मामले में 3 आरोपियों को गिरफ्तार किया है. एण्टी क्राईम एवं सायबर यूनिट की विशेष टीम को सूचना प्राप्त हुई कि थाना कोतवाली क्षेत्र में कुछ लड़के दोपहिया वाहन बिक्री करने की फिराक में ग्राहक की तलाश कर रहे हैै। जिस पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अपराध अभिषेक माहेश्वरी द्वारा प्रभारी एण्टी क्राईम एवं सायबर यूनिट तथा थाना प्रभारी कोतवाली को लड़कों की तस्दीक कर आवश्यक कार्यवाही करने निर्देशित किया गया। जिस पर एण्टी क्राईम एवं सायबर यूनिट तथा थाना कोतवाली पुलिस की संयुक्त टीम द्वारा उक्त स्थान पर जाकर मुखबीर द्वारा

बताये हुलिये के 03 लड़कों एवं वाहन को चिन्हांकित कर पकड़ा गया। पूछताछ में लड़को ने अपना नाम राहुल साहू एवं राजा निर्मलकर होना बताया तथा 01 विधि के साथ संघर्षरत बालक है। टीम के सदस्यों द्वारा तीनों से वाहन के कागजात के संबंध में पूछताछ करने पर उनके द्वारा गोल मोल जवाब देकर लगातार टीम को गुमराह करने का प्रयास करते हुए वाहन के संबंध में किसी प्रकार का कोई भी कागजात प्रस्तुत नहीं किया गया।

जिस पर टीम के सदस्यों द्वारा तीनों से कड़ाई से पूछताछ करने पर उनके द्वारा वाहन को चोरी का होना बताया। टीम के सदस्यों द्वारा चोरी की अन्य वाहनों के संबंध में कड़ाई से पूछताछ करने पर उनके द्वारा अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर रायपुर के अलग-अलग थाना क्षेत्रों से कुल 20 नग दोपहिया वाहन एवं 01 नग आटो चोरी करना बताया गया।

आरोपी/अपचारी से जप्त चोरी की 08 नग दोपहिया वाहनों में आरोपी/अपचारियों के विरूद्ध थाना कोतवाली, गोलबाजार, गुढिय़ारी, आमानाका, सरस्वती नगर, सिविल लाइन, न्यू राजेन्द्र नगर, खमतराई एवं थाना तेलीबांधा में धारा 379 भादवि. का अपराध पंजीबद्ध है।

आरोपी/अपचारी को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से चोरी की कुल 20 नग दोपहिया वाहन एवं 01 नग आटो जुमला कीमती लगभग 5,50,000 रूपये जप्त कर तीनों के विरूद्ध थाना कोतवाली में धारा 41(1$4)जा.फौ./379 भादवि. का अपराध पंजीबद्ध कर कार्यवाही किया गया। गिरफ्तार आरोपी/अपचारी से घटना में संलिप्त अन्य आरोपियों के संबंध में पूछताछ कर पतासाजी की जा रहीं है, प्रकरण में आरोपियों की संख्या बढ़ने की संभवाना हैं।

नशे का कारोबार करने वाले गिरोह का पर्दाफाश

4 लाख का ब्राउन शुगर और नशीली टेबलेट जब्त, 4 आरोपी गिरफ्तार:- दुर्ग पुलिस लगातार नशे के खिलाफ अभियान चला रही है. युवाओं के खून में नशे का जहर फैलाने वाला गिरोह पुलिस की गिरफ्त में है. मोहन नगर पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर ब्राउन शुगर और हेरोइन बेचने वाले 4 तस्करों को गिरफ्तार किया है. आरोपियों के पास से 170 पुडिय़ा ब्राउन शुगर और प्रतिबंधित 2900 पत्ते अल्फजोलाम और 288 पत्ते स्पास्मो के जब्त किया है.

जब्त किए गए पुडिय़ा की कीमत 4 लाख रुपए से ज्यादा बताई जा रही है. बता दें कि, आरोपियों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है. आरोपियों से इस गोरखधंधे से जुड़े अन्य लोगों के बारे में पूछताछ की जा रही है. शहर के कई युवा इस नशे की गिरफ्त में आ चुके हैं और इसका लगातार सेवन करते हैं. दरअसल आरोपी गिरोह दुर्ग समेत अन्य जगहों पर बड़ी मात्रा में खपाते थे,

पिछले कई सालों से दुर्ग भिलाई में गांजा, ब्राउन शुगर, चरस, हेरोइन और अफीम का खुलेआम व्यापार किया जा रहा है. युवा इस नशे के आदि बनते जा रहें हैं. जानकारी के अनुसार, दुर्ग शहर में पिछले 3 सालों में पुलिस ने लगभग 100 से अधिक मामलों में नशे के सौदागरों को अपनी गिरफ्त में लिया है.

हालांकि अब तक नशे के बड़े सौदागरों को गिरफ्तार करने में पुलिस फिस्सडी साबित हुई है. वहीं एसपी अभिषेक पल्लव की माने तो नशे के खिलाफ लगातार दुर्ग जिले में नार्को के तहत कार्रवाई की जा रही है।

Chhattisgarh News Dhamaka Team

स्टेट हेेड छत्तीसगढ साधना प्लस न्यूज ( टाटा प्ले 1138 पर ) , चीफ एडिटर - छत्तीसगढ़ न्यूज़ धमाका // प्रदेश उपाध्यक्ष, छग जर्नलिस्ट वेलफेयर यूनियन छत्तीसगढ // जिला उपाध्यक्ष प्रेस क्लब कोंडागांव ; हरिभूमि ब्यूरो चीफ जिला कोंडागांव // 18 सालो से पत्रकारिता के क्षेत्र में सक्रिय। विश्वसनीय, सृजनात्मक व सकारात्मक पत्रकारिता में विशेष रूचि। कृषि, वन, शिक्षा; जन जागरूकता के क्षेत्र की खबरों को हमेशा प्राथमिकता। जनहित के समाचारों के लिये तत्परता व् समर्पण// जरूरतमंद अनजाने की भी मदद कर देना पहली प्राथमिकता //

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!